First blog post- About Sampoorn

तारीफ़ दूं मैं क्या अपनी एक रोज़ दुनिया बताएगी,

जब चल कर आगे आऊंगा हर महफ़िल सिर झुकाएगी।

        कलम से-सम्पूर्ण

खैर नाम शान्तनु त्रिपाठी, रिहाइश और पैदाइश है लखनऊ की। कलम का कलाकार हूं, जाना है बहुत आगे,

किसी से कोई दौड़ नही बस एक अलग पहचान बनाने की चाह।

इरादा है एक दौर अपने नाम करने का।

बाकी किस्मत और आप सबकी दुआ।

Featured post

जलन है।

अब इश्क़ में तो जायज़ है साहब।

First collaboration with a great writer shubhi mishra 

#inkedshades

कलम से- सम्पूर्ण

मुहोब्बत की है तो हर वादा निभाना सीखो,

चैन तो चैन ही है जिंदगी गवाना सीखो।

Create a free website or blog at WordPress.com.

Up ↑